Mothers Day Quotes Hindi

Mothers Day Quotes Hindi दोस्तो आज हम बात करेंगे दुनिया की सबसे बड़ी योद्धा की बात, जिसको हम माँ बोलते हैं दोस्तो  माँ  ही   हैं  जो  आप का  साथ  आप का साथ किसी भी हाल मे नही छोड़ेगी चाहे भले ही पूरी दुनिया आप के खिलाफ हो जाए, वो केवल माँ ही हैं जो आप के लिए पूरी दुनिया से लड़ जाएगी पर आप को कभी भी छोड़ेगी नही, आप चाहे जीतने भी  गलत  क्यो न हो पर  आप अपनी माँ के लिए हमेशा सही ही रहोगे।

7 मई, वह विशेष समय होता है जब आपको अपना पहला सबसे अच्छा दोस्त और वह व्यक्ति मिलता है जिसे आप हमेशा सलाह की आवश्यकता होती है। Mother Day आपके जीवन में अन्य सभी अद्भुत महिलाओं के लिए अपना प्यार दिखाने का भी एक अच्छा समय है। यदि आप अपनी माँ, दादी, बहनों, मौसी, और दोस्तों को दिखाने का तरीका खोज रहे हैं तो आप सही जगह आए   हैं

Sunday, 9 May 2021

Mothers Day Quotes Hindi

वह माँ ही है जिसके रहते
जिंदगी में कोई गम नहीं होता
दुनिया साथ दे या ना दे पर
माँ का प्यार कभी कम नहीं होता

ठोकर न मार मुझे पत्थर नहीं हूँ मैं
हैरत से न देख मुझे मंज़र नहीं हूँ मैं
तेरी नज़रों में मेरी क़दर कुछ भी नहीं
मेरी माँ से पूछ उसके लिए क्या नहीं हूँ मैं

दिन भर की मशक़्क़त से बदन चूर है लेकिन
माँ ने मुझे देखा तो थकान भूल गई है

तेरे क़दमों में ये सारा जहां होगा एक दिन
माँ के होठों पे तबस्सुम को सजाने वाले

तुम क्या सिखाओगे मुझे प्यार करने का सलीका
मैंने माँ के एक हाथ से थप्पड़ तो दुसरे हाथ से रोटी खायी है

जब हमें बोलना नहीं आता था तो माँ समझ जाती थी
आज हम हर बात पर कहते हैं माँ तू नहीं समझेगी

मैं जो कुछ भी हूँ या होने की आशा रखता हूँ
उसका श्रेय सिर्फ मेरी माँ को जाता है

माँ भगवान का ही रूप होती है

भगवान सभी जगह नहीं हो सकते इसलिए उन्होंने माँ को बनाया

मातृत्व – सारा प्रेम वहीँ से आरम्भ और अंत होता है

बच्चे माँ के जीने का सहारा होते हैं

इंसान वो है जो उसे उसकी माँ ने बनाया है

मैं करता रहा सैर
जन्नत में रात भर
सुबह उठकर देखा
तो सर माँ के क़दमों में था

माँ और क्षमा दोनों एक हैं
क्यूंकि माफ़ करने में दोनों नेक हैं

उम्रभर ओ माँ तू मोहब्बत से मेरी खिदमत रही
अब मैं खिदमत लायक हुआ तो तू चल बसी

ये लाखों रूपए मिट्टी हैं
उस एक रुपये के सामने
जो माँ हमें स्कूल जाते समय देती थी

बचपन में चोट लगते ही माँ हल्की फूंक मारकर कहती थी बस ठीक हो जायेगा
वाकई माँ की फूंक से बड़ा कोई मरहम नहीं बना

जिस घर में माँ होती है, वहां सब कुछ खुशहाल रहता है

माँ ने आखिरी रोटी भी मेरी थाली में परोस दी,
जानें क्यों फिर भी मंदिर में भगवान ढूढ़ता हूँ मैं
माँ के दिल जैसा दूनियाँ में कोई दिल नहीं…

एक बात हमेशा याद रखना !
मंदिर बनाना, मस्जिद बनाना, अनाथ आश्रम बनाना,
अस्पताल बनाना, गुरुद्वारा बनाना, चर्च बनाना,
स्कूल बनाना पर कभी वृद्धा आश्रम मत बनाना।
अपने माता पिता को हमेशा दिल से लगाकर रखना।

माँ का दिल वो बड़ा दरिया है
जिसमें दया और क्षमा भरी है

माँ सबसे महान शिक्षक है
दया और प्यार की प्रतिमूर्ति है

माँ कठोर मेहनत करती है
खुद महान बनने के लिए नहीं
बल्कि बच्चों को महान बनाने के लिए

बच्चे ही माँ के हृदय रूपी बगीचे से फूल होते हैं

माँ की कोमल गोद ही दुनिया की सबसे सुरक्षित जगह है

दुनिया की कोई दौलत माँ के दूध का कर्ज नहीं उतार सकती

Mothers Day Quotes Hindi

हमारे कुछ गुनाहों की सज़ा भी साथ चलती है,
हम अब तन्हा नहीं चलते दवा भी साथ चलती है
अभी ज़िन्दा है माँ मेरी मुझे कुछ भी नहीं होगा,
मैं जब घर से निकलता हूँ दुआ भी साथ चलती है

माँ तेरी याद सताती है, मेरे पास आ जाओ
थक गया हूँ, मुझे अपने आँचल मैं सुलाओ
उंगलियाँ अपनी फेर कर बालों मैं मेरे
एक बार फिर से बचपन की लोरियाँ सुनाओ.

दास्तान मेरे लाड़-प्यार की बस,
एक हस्ती के गिर्द घूमती है,
प्यार जन्नत से इसलिए है मुझे,
क्योंकि ये भी मेरी माँ के क़दम चूमती है.

दुनिया की बेस्ट माँ तो हर बेटे के पास होती है।
लेकिन पता नहीं दुनिया की बेस्ट बीवी पड़ोसी के पास ही क्यों होती है?
“मदर डे” की शुभकामनाएं।

माँ से रिश्ता ऐसा बनाया जाऐ,
जिसको निगाहों में बिठाया जाऐ,
रहे उसका मेरा रिश्ता कुछ ऐसे कि,
वो अगर उदार हो तो हमसे भी…
मुस्कुराया ना जाऐ…

बच्चों को खिलाकर जब सुलादेती है माँ ,
तब जाकर थोडा सा सुकोन पाती है माँ ;

प्यार कहते हैं किसे ? और ममता क्या चीज़ है ?,
कोई उन बच्चों से पूछे जिनकी गुज़र जाती है माँ ;

चाहे हम खुशियों में माँ को भूल जाएँ ,
जब मुसीबत सर पर आती है तो याद आती है माँ.

कौन सी है वो चीज़ जो यहाँ नहीं मिलती,
सब कुछ मिल जाता है लेकिन “माँ” नहीं मिलती,
माँ-बाप ऐसे होते हैं दोस्तों जो ज़िन्दगी में फिर नहीं मिलते,
खुश रखा करो उनको फिर देखो जन्नत कहाँ नहीं मिलती.

जब हमें बोलना भी नही आता था,
तब भी हमारी हर एक बात समझ जाती थी माँ.
और आज जब हम बोलना सीख गये,
तो बात-बात पर बोलते हैं, “छोड़ो आप नहीं समझोगे माँ”

माँ से रिश्ता ऐसा बनाया जाए,
जिसको निगाहों में बिठाया जाए,
रहे उसका मेरा रिश्ता कुछ ऐसा
वो अगर उदास हो तो हमसे भी मुस्कुराया ना जाए.
|| हैप्पी मदर डे की हार्दिक शुभकामनाएँ ||

हर इंसान के ज़िन्दगी में वह सबसे ख़ास होती है,
दूर होते हुए भी वह दिल के पास होती है,
जिसके सामने मौत भी अपना सर झुका दे,
वह और कोई नहीं बस माँ होती है.

वो मेरी माँ है त्रिलोक उस की मुठ्ठी में हैं
मरजाना भी कहती है तो मेरी उम्र बढ़ जाती है

सर्द की ये
पहली हवा,मुझको रुला गई
बदन कपकपाया तो,मुझको “माँ” याद आ गई !!

बस एक करवट ज्यादा ले लू किसी रोज सोते वक्त,
मॉ..!!! आज भी आकर पूछ लेती है बेटा तबियत तो ठीक हैं ना …

रोज़ रौशन कर देती है मुक़दर मेरा…
रात के अँधेरे में मेरी माँ की लोरियाँ ..

यूं ही नहीं गूंजती किल्कारीयां‬ घर आँगन‬ के हर कोने मे..!…
जान ‎हथैली‬ पर रखनी‪ पड़ती है ‘माँ’ को ‘‪माँ‬’ होने मे…!!‪

सबने बताया कि, आज मां का दिन है..
कौन बताएगा कि वो कौन सा दिन है, जो मां के बिन है.

रब ने माँ को यह आज़मत कमाल दी,
उसकी दुआ पर हर मुसीबत भी टाल दी…
माँ के प्यार की कुछ इस तरह मिसाल दी,
कि जन्नत उठाकर माँ के क़दमों में डाल दी!

मैंने माँ की हतेली पर एक काला तिल और कहा की माँ
यह दौलत का तिल है..?
माँ ने अपने दोनों हाथों मैं मेरा चेहरा थामा और कहा..
“हाँ बेटा देखो मेरे दोनों हाथों मैं कितनी दौलत है..!!

मुझे इतनी “फुर्सत” कहाँ कि मैँ तकदीर
का लिखा देखुँ ,
बस अपनी माँ की ”
मुस्कुराहट” देख कर समझ जाता हुँ
की “मेरी तकदीर” बुलँद है.

कौन कहता कि बचपन वापस नही आता…
दो घड़ी माँ के पास तो बैठ कर देखो ..!
बच्चा ना महसूस करो..फिर कहना ..!!

Happy mother’s day quotes Hindi

इस बात से अभी तक कई इंसान अनजान है,
मां सिर्फ मां नहीं एक वरदान है।

उसके होंठों पे कभी बद्दुआ नहीं होती,
बस एक माँ है जो कभी खफा नहीं होती।

वो तो असर है मां की दुआओं में,
वरना इतना सुकून कहां था इन हवाओं में।

मां तेरे दूध का हक़ मुझसे अदा क्या होगा,
तू है नाराज तो खुश मुझसे खुदा क्या होगा।

सवरने की कहाँ उसे फुर्सत होती है,
माँ फिर भी बहुत खूबसूरत होती है।

ऊपर जिसका अंत नहीं उसे आसमां कहते हैं,
जहां में जिसका अंत नहीं उसे माँ कहते हैं।

जन्नत का हर लम्हा दीदार किया था,
गोद में उठाकर जब मां ने प्यार किया था।

सारे जहां में नहीं मिलता बेशुमार इतना,
सुकून मिलता है माँ के प्यार में जितना।

जन्नत का एक टुकड़ा,
जमीन पर भी है,
जो मेरी माँ के क़दमों में है।

रुके तो चाँद जैसी है,
चले तो हवाओं जैसी है,
वो माँ ही है,
जो धुप में भी छाँव जैसी है।

हालातों के आगे जब साथ ना जुबां होती है,
पहचान लेती है खामोशी में हर दर्द,
वो सिर्फ “माँ” होती है।

तुझसे बढ़कर ना है कोई,
ना तुझसा कोई प्यारा,
माँ तू ही है खुदा हमारे लिए,
जिसने हमें प्यार से पाला।

उसके रहते जीवन में कोई गम नहीं होता,
दुनिया साथ दे ना दे पर माँ का प्यार,
कभी कम नहीं होता।

वो जमीं मेरी वो ही आसमान,
वो खुदा मेरा वो ही भगवान्,
क्यों मैं जाऊं उसे कहीं छोड़,
माँ के क़दमों में सारा जहां हैं।

बेहद मीठा कोमल होता है,
माँ के प्यार से ज्यादा,
कुछ नहीं अनमोल होता है।

माँ है मोहब्बत का नाम,
माँ को हजारों सलाम,
करदे फ़िदा जिंदगी,
आए जो बच्चों के काम।

तेरे ही आँचल में निकला बचपन,
तुझ से ही तो जुड़ी हर धड़कन,
कहने को तो माँ सब कहते है,
पर मेरे लिए तो है तू भगवान्।

मंजिल दूर और सफर बहुत है,
छोटी सी जिंदगी की फिकर बहुत है,
मार डालती ये दुनिया कब की हमें,
लेकिन “माँ” की दुआओं में असर बहुत है।

तेरे पैरों के निचे है जन्नत मेरी,
उम्र भर सर पे साया तेरा चाहिए,
प्यारी माँ मुझको तेरी दुआ चाहिए,
तेरे आँचल की ठंडी हवा चाहिए।

माँ तो जन्नत का फूल है,
प्यार करना उसका उसूल है।

दुनिया की मोहब्बत फिजूल है,
माँ की हर दुआ कबूल है।

मत कहिये मेरे साथ रहती है माँ,
कहिये की माँ के साथ रहते है हम।

माँ को नाराज करना इंसान तेरी भूल है,
माँ के क़दमों की मिट्टी जन्नत की धूल है।

इस दुनिया में जितने रिश्ते,
सारे झूठे बेहरूप,
एक माँ का रिश्ता सबसे अच्छा,
माँ है सब का रूप।

जो बना दे सारे बिगड़े काम,
माँ के चरण में होते चारों धाम।

किसी भी मुश्किल का अब किसी को हल नहीं मिलता,
शायद अब घर से कोई, माँ के पैर छूकर नहीं निकलता।

चलती फिरती आँखों से अजां देखी है,
मैंने जन्नत तो नहीं देखी,
लेकिन माँ देखी है।

माँ की अजमत से अच्छा जाम क्या होगा,
माँ की खिदमत से अच्छा काम क्या होगा,
खुदा ने रख दी हो जिसके क़दमों में जन्नत,
सोचो उसके सर का मुकाम क्या होगा।

हर रिश्ते में मिलावट देखी,
कच्चे रंगों की सजावट देखी,
सालों-साल से देखा है माँ को,
न उसके चेहरे पर थकावट देखी,
न ममता कोई कोई मिलावट देखी।

माँ सर पर जो हाथ फैरे तो हिम्मत मिल जाए,
माँ एक बार मुस्कुरा दे तो जन्नत मिल जाए।

रब हर एक माँ को सलामत रखना,
वरना हमारे लिए दिल से दुआ कौन करेगा।
क्योंकि माँ की दुआ वक्त तो क्या नसीब भी बदल देती है।

बस एक माँ ही ऐसी होती है,
जो पहचान लेती है आंखें,
सोने से लाल है या रोने से।

सख्त राहों में भी आसान सफर लगता है,
ये मेरी माँ की दुआओं का असर लगता है।

मेरी तक़दीर में कभी कोई गम नहीं होता,
अगर तक़दीर लिखने का हक़ मेरी माँ का होता।

मांग लू ये मन्नत कि फिर यही जहां मिले,
फिर वही गोद फिर वही माँ मिले।

यूं तो मैंने बुलंदियों के हर निशान को छुआ है,
जब माँ ने गोद में उठाया तो आसमान को छुआ है।

वो माँ ही है जिसके रहते जिंदगी में कोई गम नहीं होता,
दुनिया साथ दे ना दे पर माँ का प्यार कभी कम नहीं होता।

मेरे होने की वजह मेरी माँ है,
मेरे जीवन की ख़ुशी मेरी माँ है,
सब का अपना-अपना खुदा होता है,
मेरे लिए तो खुदा मेरी माँ है।

दवा असर ना करे तो नजर उतारती है,
माँ है जनाब वो कहाँ हार मानती है।

जिसके होने से मैं खुद को मुकम्मल मानता हूँ,
मेरे रब के के बाद मैं बस अपनी माँ को जानता हूँ।

जिंदगी की खूबसूरती की एहसास मुझे तब होता है,
जब मैं मेरी माँ को मुस्कुराते हुए देखता हूँ।

दुनिया में सब कुछ बिकता है,
सिवाए माँ के प्यार के,
अगर जाननी है अहमियत माँ की,
तो उनसे पूछिए जिनके पास सब कुछ है
सिवाए माँ के प्यार के।

माँ के बारे में क्या लिखूं।
उसने मुझे खुद लिखा है।

हम खुशियों में भले ही भूल जाए माँ को,
लेकिन जब मुसीबत आती है तो याद आती है माँ।

माँ से दूर होने पर आसूं छलक ही जाते है,
चाहे जितना छूपा के रखो, माँ को नजर आ ही जाते है।

माँ से रिश्ता कुछ ऐसा बनाया जाए,
जिसको निगाहों में बिठाया जाए,
रहे उसका मेरा रिश्ता कुछ ऐसा की,
वो अगर उदास हो तो हमसे भी मुस्कुराया न जाए।

माँ मेरे उठने से पहले जाग जाती है,
मेरी हर छोटी-बड़ी जरूरतों का ख्याल रखती है,
एक माँ ही तो है मेरी,
जो मकान को घर और मेरे जहां को स्वर्ग बनाती है।

ज़मीन से उठाकर आसमान तक पहुंचाया,
मेरी माँ थी वो जिसने मुझे चलना सिखाया।

सीधा-साधा भोला-भाला मैं ही सबसे सच्चा हूँ,
कितना भी हो जाऊं बड़ा माँ आज भी तेरा बच्चा हूँ।

पूछता है जब कोई,
दुनिया में मोहब्बत है कहाँ,
मुस्कुरा देता हूँ और याद आ जाती है माँ।

काश मेरा नसीब लिखने का हक़ मेरी माँ को होता,
तो आज मेरे नसीब में कोई गम ना होता।

सारी दुनिया फिक्र करना छोड़ सकती है,
लेकिन मेरी माँ नहीं।

आंखें खोलूं तो चेहरा माँ का हो,
आंखें बंद तो सपना माँ का हो,
मैं मर भी जाऊं तो कोई गम नहीं,
बस कफ़न मिले तो दुपट्टा मेरा माँ का हो।

सच्चा प्यार करना है तो माँ से करो,
इस प्यार में कभी बेवफाई नहीं होती।

खुद मौत के मुंह में जाकर,
बच्चे को जीवन दान दे,
ऐसी है वो शक्तिशाली माँ,
जो इतना महान काम कर दे।

नहीं हो सकता कद तेरा ऊँचा,
किसी भी माँ से ऐ खुदा,
तू जिसे आदमी बनाता है,
वो उसे इंसान बनाती है।

सारी दुनिया से बढ़कर है मां,
सारी दुनिया से बढ़कर है उसका प्यार,
जिसने बनाया है ये जहां दुनिया,
वो भी तरसता है पाने को माँ का प्यार।

%d bloggers like this: