Mujhe Gam Bhi Unaka

Mujhe Gam Bhi Unaka

मुझे ग़म भी उनका अज़ीज है
कि उन्हीं की दी हुई चीज़ है,
यही ग़म है अब मेरी जिंदगी
इसे कैसे दिल से जुदा करूँ।

Mujhe Gam Bhi Unaka Azij Hai
Ki Unhin Ki Di Hui Chiz Hai,
Yahi Gam Hai Ab Meri Jindagi
Ise Kaise Dil Se Juda Karoon.

Leave a Reply

%d bloggers like this: