Mulakat ho na ho batchit hoti rahni chahiye

मुलाक़ात हो ना हो,
बातचीत होती रहनी चाहिये…
क्योंकि अपनों का चुप रहना,
ग़ैरों के शोर से ज्यादा परेशान करता है…

%d bloggers like this: