Sad Shayari – Koi Nahi Rukta Zindagi Mein

Koi nahi rukta is zindagi mein kisi ke liye,
Sab yuhin chalte rahte hain,
Kaun deta hai umar bhar ka sath,
Log to janaze mein bhi kandhe badalte rahte hai..

कोई नही रुकता इस ज़िंदगी में किसी के लिए,
सब युहीन चलते रहते हैं,
कौन देता है उमर भर का साथ,
लोग तो जनाज़े में भी कंधे बदलते रहते है..

Leave a Reply