Success stories in hindi motivational story

Today we are going to share with you success stories written in hindi. We always focus on motivating our readers through our stories. In that light these stories will inspire and motivate you to get success in life.

Great Success stories in hindi full of motivation

Below are the stories given one by one. With title in between to make story more clear for readers.

Success story अपनी सफलता का मार्ग खुद बनाये

इस दुनियाँ में कोई भी पूर्ण नहीं है. हाँ दुसरे के नजर में जरुर है. अगर किसी को यह लगता भी है की मैं पूर्ण हूँ. मुझे वह सारी चीज मिल गई- ज्ञान भी, धन-दौलत भी समझदारी भी तो वह झूठ बोल रहा है. दुनियाँ को दिखने के लिए वह पूर्ण होने का दावा करता है.

पूर्ण तो हम छोटी-सी-छोटी चीजो में हो सकते है. पैसे तो झूठी शान देखने के लिए होता है. अगर आपको ऐसा नहीं लगता है तो एक बात अपने दिमाग में लायें- ख़ुशी कहाँ पर है – गावं में या शहर में. शहर में पैसा-ही पैसा है.

मगर जो ख़ुशी, ईमानदारी, खुली हवा, खुली सोच, भाईचारा, बहुत सारी चीज है वह शहर में नहीं मिल सकता. बस आपको देखने की जरुरत है. Moral story in hindi -एक कहानी जो आपकी जीवन बदल देगी.

आप सफल होंगे या नहीं यह कोई और नहीं बता सकता. और अगर कोई बता रहा है तो उस पर विश्वास मत कीजिए. विश्वास कीजिए तो बस खुद पर. आप खुद तय करेंगे. हाँ कोई सफल आदमी यह जरुर बता सकता है की वह सफल कैसे हुआ, क्या करके सफल हुआ, क्या-क्या दिक्कतें हुई उसके राह में. मगर आपके साथ भी वही condition नहीं आएगा. आपके पास कुछ दूसरा प्रॉब्लम हो जो उसे न मिला हो. वह प्रॉब्लम को किसी और तरीके से निपटा हो जो की आप नहीं कर सकते.

Motivational thoughts – किसी के कहने पर विश्वास नहीं करें

Successful लोगो को पढो और उनसे सीखो मगर आँख बंद करके उनके बात पर विश्वास मत करो. ऐसा मत सोचो की successful लोगो ने कह दिया की तू success हो जाएगा तो मैं success हो जाऊंगा. वो बोल दिये की तू success नहीं हो सकता तो मैं अब कभी success नहीं हो सकता.

आपलोग को एक कहानी बताता हूँ जिससे आपलोग बढ़िया से कनेक्ट कर पाएंगे – Motivational success stories

मेरा एक मामा का लड़का था. मुझसे उम्र में कुछ छोटा होगा. वह एक बढ़िया सी company में बढ़िया सा रैंक पर था. वह मेरे काम करने के तरीके से impress था. मेरे अपने बिजनेस में success होने के बाद घर-परिवार, लोगो में मेरा मान-आदर बढ़ गया था. लोग मुझ से आईडिया लेने लगे. मैं भी दुसरो को हेल्प करता और बताता ऐसे नहीं ऐसे करो. मेरे आईडिया और advise कितना कारगर था ये तो मुझे पता नहीं था.

एक दिन उसका call आया. उसने बताया की वह अपना job छोड़ना चाहता है और मेरी तरह वह भी अपना बिजनेस करना चाहता है. अपना सेल्फ का. मैंने उसे बुला लिया.

उसने मुझे अपना सारा प्लान बताया . कैसे शुरू करना है, कैसे मार्केटिंग करना है, कैसे product बेचना है. उसने सारा चीज तैयार कर रखा था. पर मैंने मना कर दिया. मुझे लगा प्लान ठिक नहीं है. इसमें success नहीं मिलेगा. ऐसा केवल मुझे लग रहा था. उसे नहीं. मैं उस क्षेत्र में successful था. जिसमे अभी-अभी एक प्लान को नाकारा था. यह मेरा personal बिचार था की उसमे success नहीं मिलेगी. वह वहाँ से चला गया. फिर हमारी उसकी मुलाकात नहीं हुई और न कभी बात हुई.

Motivational thoughts – अपनी राह खुद बनाये

आपको यह जानकर हैरानी होगी की वह उसमे सक्सेस हो गया. पता है क्यों success हुआ? क्यों की वह यह नहीं मान लिया की भाई ने बोल दिया की प्लान success नहीं हो सकता तो नहीं होऊंगा. उसका अपने ऊपर विश्वास था की मैं कर जाऊंगा. अपने प्लान के ऊपर भरोसा था. अगर वह यही सोच कर छोड़ देता की ‘वह success है बोल रहे है तो सही ही बोल रहे ही होगें.’ तो वह भी failure ही रहता.

मुझे भी इस बात की ख़ुशी हुई की वह सफल हो गया. क्यों की यहाँ पर एक भ्रम लोगो के मन से दूर हो जायेया – “जो successful लोग बोल दिया वही होगा.”

आप अपना रास्ता खुद बना सकते हो आपकी सफलता आपके हाथ में है किसी और के हाथ में नहीं. आप चाहोगे तो आप सफल होगे, आप चाहोगे तो आप असफल. दोनों आपके हाथ में है.

एक और बात – कोई भी आपको यह बोल रहा है की तुम यह नहीं करके तो वह कैसे बोल सकता है? सोचो इस बात को. आप क्या कर सकते हो और क्या नहीं, बस कोई जनता है तो वह खुद आप हो – “खुद आप”

सफलता की एक और कहानी

मै आपलोग के समक्ष एक motivational success stories रख रहा हूँ. इसमें आप पढेंगे कैसे एक लड़का अपनी लाइफ में success होता है. शुरू में सब उस से येही कहते थे तू success नहीं हो सकता तुम यह काम छोड़कर दूसरा कम शुरू कर दो. मगर वह अपने सपने को एक दिन सच कर के दिखा देता है.

जब मेरा दोस्त अच्छी पढाई कर के एक मल्टीनेशनल company में लग गया तो एक बार मुझे भी अपने आप पर संदेह हुआ. क्या में कुछ पाउँगा? क्या मैं अपने लाइफ में success हो पाउँगा?

क्यों की अभी तक failure ही था. सक्सेस कही दूर-दूर तक नजर नहीं आ रहा था. जो भी कोई मुझसे मिलता मुझ पर दया दिखता. मुझे सलाह देता और यही कहते- “क्या रखा है इन सब चीजो में. कोई बढ़िया नौकरी के लिए प्रयास क्यों नहीं करते.” मैं कभी उसने कुछ नहीं कह पाया. मगर अपने दिल में एक बात हमेसा कहता. “एक दिन ऐसा आएगा, उस दिन तुम सभी यही कहेंगे “मन गये तुमको. तुमने कर के दिखा दिया.”

कभी कभी मन भी उनकी बातो में बहने लगता. छोड़ क्यों नही देता यह काम. शायद वह लोग सही कह रहे है. सभी senior है सभी को एक्सपीरियंस है लाइफ का. मगर मेरे दिल की गहराई में एक बात अटक जाती थी “में क्यों गध्धे जैसा किसी और के लिए दिन-रात काम करूँगा, अपने दिल का काम छोड़ कर. दिल इस बात का इजाजत नहीं दे रहा था. मैं उस दोस्त से दुरी बनाकर रहना चाहता था ताकि मुझे advise न दे. मुझे हिन् भाव से न मिले.

Motivational success stories – अपने सपने को सच करना

“हेल्लो, क्या कर रहा है बिवेक?” मैं अपने room में बैठ कुछ लिख रहा था. तभी अचानक मेरा दोस्त आ धमका.

“कुछ नहीं बैठा था तो सोचा कुछ लिखता हूँ.”

“पता है इन सब चीजो में कुछ रखा नही है. आज के टाइम में हिंदी राइटिंग को कोई नहीं पूछता.” वह मेरे सामने वाले chair पर बैठ गया. मैंने देखा काफी स्मार्ट हो गया है. job लगने के बाद. वह अपने उसी attitude में बोला – “मैं तुमसे कितने बार बोला छोड़ इन सब चीजो को और किसी बढ़िया कॉलेज से MBA वैगरह कर ले और मेरी तरह job कर ले. मजे है फिर लाइफ में.”

मेरे चेहरे पर एक हल्की सी मुस्कान आई. मैंने अपना पेन रख दिया जिससे अभी तक लिख रहा था और बोला- “पता है तुम कितना भी बड़ा job कर लो कितना भी पैसा कमा लो. मगर तुमको कभी satisfaction नहीं होगा. पता है क्यों? क्यों की तुम वह नहीं कर रहे जो तुम चाहते हो. तुम बस भागे जा रहे हो. गध्धे की रेस में दौड़े जा रहे हो. और मै?

मैं कभी सक्सेस होऊ या ना होऊ. वह success या failure दुनिया की नजर में है. मेरे नजर में मैं अभी भी success हूँ. क्यों की मैं वही कर रहा जो मेरे अंदर है और यही मेरे success है. जब भी मैं अपना पेन और register लेकर बैठता हूँ. उसको किसी सक्सेस में तौला नहीं जा सकता.”

मेरे अंदर जो भी था सारा निकल दिया एक बार में ही. वह बैठ सारा बात चुपचाप सुनता रहा. उसके बाद वह इस topic से हट गया. उसका “moral” वह नहीं रहा जिसके साथ वह यहाँ पर आया था. मेरा भी moral वह नहीं रहा जो उसके आने के वक्त था. मुझे एक अगल energy मिल रहा था.

मैं लगा रहा अपने राइटिंग में. पहले एक बुक आया वह hit हो गया. दूसरा आया वह भी चल पड़ा इस तरह मेरी 5 किताबे आई और 5 के 5 हिट्स हुई.

अब frustrate होने का टाइम दुसरो का था. सब मुझे आइडियल मानने लगे. अब अपने अपने राय देने लगे- “मैं तो पहले ही जानता था. यह सक्सेस होगा एक दिन.

मेरा दोस्त जिसे देख कर कभी मैं frustrate होता था अब वह frustrate हो गया अपनी job से. वह अपनी job छोड़ना चाहता था। और एक दिन वह मेरे पास आया advice के लिए. मैंने भी दिल से लगकर उसकी बहुत हेल्प की.

इस कहानी का मतलब है – “कोई भी अपने आप में perfect नहीं है. सभी के अंदर कुछ quality है तो कुछ कमियां है. आपन भी अपनी quality देखो. कमियां तो दुसरे देखते ही रहते है.

दूसरी बात – सभी को inspiration की जरुरत होती है. चाहे successful हो या failure हो. आप भी अपने क्षेत्र के successful लोगो से inspiration ले.

Leave a Reply

%d bloggers like this: