Khamoshi Shayari in hindi |shayari on khamoshi

khamoshi Shayari- कभी कबार ज़िन्दगी में ऐसे मौके आते है जब कुछ न बोलना ही बेहतर होता हैं और वहा हम खामोश हो जाते है ऐसा हर किसी की ज़िन्दगी में होता है खासकर जब दिल टूट जाता हैं या रिश्ते ख़राब हो जाते हैं ऐसे में अच्छा यही होता है की चुपचाप बैठकर यह सोचा जाए की यह सब कैसे ठीक किया जाए पर कभी कभी बहुत देर हो जाती हैं और कोई रास्ता नजर नहीं आता ऐसे में बेहतर हैं की ज़िन्दगी से सबक लिया जाय और यह सोचा जाए की आखिर हमने ऐसी क्या गलती की और अब हमे ज़िन्दगी में किस तरह के कदम उठाने से पहले बार बार सोचना चाहिए पर कुछ भी कहो ज़िन्दगी में ऐसे पल बहुत कुछ सीखा जाते हैं पर वो ख़ामोशी बहुत कुछ कहने लगती है जैसे इन ख़ामोशी से भरी शायरी की तरह, इन ख़ामोशी से भरी शायरी में शब्द भले कम होते है पर इन शायरियो के मतलब बहुत बड़े होते है

यह ख़ामोशी से भरी शायरी हर किसी का दिल छु जाती है और इस article में आपको बहुत अच्छी-अच्छी शायरी पढ़ने को मिल जाएगी, आशा करता हु आपको पोस्ट पसंद आएगी

जवाब पलट कर देने में 😶क्या जोर जनाब
असली ताकत तो खामोश 🤫 रहने में लगती हैं

शिकायते तो बहुत है 😶उनसे मेरी
पर क्या करू
य जो ख़ामोशी🤫 हैं
मुझे कुछ कहने ही नहीं देती

ख़ामोशी🤫 की तह में छुपा लीजिये उलझने
क्योकि शोर कभी मुश्किल😔 आसन नहीं करती

जब इंसान अन्दर से टूट😔 जाता हैं
तो अक्सर बहार से खामोश🤫 जो जाता हैं

इस ख़ामोशी🤫 को मेरी
कमजोरी 😔 मत समझना
कलम झटकता हु तो
स्याही अब ही बहत दूर तक जाती हैं

ये दुनिया बड़ी जालिम हैं
उसे आपको ख़ामोशी 🤫 से क्या लेना
इस दुनिया को तो बस
आपकी दर्द से मजा लेने से हैं

क्या करोगे मेरी
ख़ामोशी 🤫की पीछे की दर्द को जानकार
कही मेरे दर्द को जानकार
तुम भी खामोश 😶 न हो जाओ

जब भी उसकी याद आती हैं इस दिल मैं
तभी ख़ामोशी 🤫सी छा जाती हैं
इस दिल में

ख़ामोशी🤫 वो सजा हैं
जिसमे आप कसी को
कुछ कह नहीं पाते
ख़ामोशी 😶 वो सजा हैं
जिसमे आप अपने आप से
बहुत कुछ कहते रहते हैं

खामोशिया🤫 तेरी मेरी खामोशिया
खामोशिया😶 तेरे मेरे एहसास में लिपटी हुई

ख़ामोशी 🤫से धड़कन के सामान हैं
जिसे तुम एहसास 😶से ही समझ
सकते हो…

Read More