Zara Si Baat Der Tak Rulati Rahi, Shayari

Zara Si Baat Der Tak Rulati Rahi,
Khushi Mein Bhi Aankhein Aansu Bahati Rahi,
Jise Chaha Wo Mil Kar Bhi Na Mila,
Zindagi Bas Hum Ko Yuhi Azmati Rahi!

ज़रा सी बात देर तक रूलाती रही,
खुशी में भी आँखें आँसू बहाती रही..
कोई खो के मिल गया तो कोई मिल के खो गया,
ज़िंदगी हम को बस ऐसे ही आज़माती रही!…

Continue Reading

Sad Shayari, Mohabbat ki daastan sunane aaye hain

Mohabbat ki daastan sunane aaye hain,
Tabaah krne k bad wo pyar jatane aye hai
Aansu pochh liye the hamnein kab ke
Magar wo fir se aaj hume rulane aaye hai. 1f622 - Sad Shayari, Mohabbat ki daastan sunane aaye hain

मोहब्बत की दास्तान सुनाने आये हैं,
तबाह करने क बाद वो प्यार जताने आये है,
आंसू पोंछ लिए थे हमनें कब के,
मगर वो फिर से आज हमे रुलाने आये है। 1f622 - Sad Shayari, Mohabbat ki daastan sunane aaye hain

Continue Reading

ऐ दिल है मुश्किल शायरी – आज जाने की जिद न करो

ऐ दिल है मुश्किल

जब प्यार में प्यार न हो
जब दर्द में यार न हो
जब आँसूओ में मुस्कान न हो
जब लफ़्ज़ों में जुबान न हो
जब साँसे बस यूं ही चले
जब हर दिन में रात ढले
जब इंतज़ार सिर्फ वक़्त का हो
जब याद उस कमबख्त की हो
क्यों वो हो राही जो हो किसी और की मंजिल
जब धड़कनों ने साथ छोड़ दिया
ऐ दिल है मुश्किल , ऐ दिल है मुश्किल

AE Dil Hai Muskil

jab pyar mein pyar na ho
jab dard mein yaar na ho
jab anssooao mein muskan na ho
jab lafzzo main jubaan na ho
jab sanse bas yoon hi chale
jab har din main raat dhale
jab intezaar sirf waqt ka ho
jab yaad us kambaqat ki ho
kyon wo ho raahi jo ho kisi aur ki manjil
jab dhadkno ne sath chod diya
AE dil hai muskil , …

Continue Reading

Ameer Gareeb Shayari, Ummid par vo sara jeevan kaat leta

उम्मीद पर वो सारा जीवन काट लेता है,
आँसू के कतारो से मुस्कराना छांट लेता है,
अमीर की भूख हे की कभी कम नही होती,
गरीब आधा निवाला भी मगर बांट लेता है।

Ummid par vo sara jeevan kaat leta hai,
Aansu ke kataro se muskarana chhaant leta hai,
Ameer ki bhukh hai ki kabhee kam nahi hoti,
Garib aadha nivaala bhi magar bant leta hai.…

Continue Reading

Sitam sah kar bhi kitne gam chhipaye humne, Shayari

Sitam sah kar bhi kitne gam chhipaye humne,
Teri khatir har din aansu bahaaye humne,
Tu chhod gaya jahan humein raahon mein akela,
Tere diye zakhm har ek se chhupaye humne. 1f494 - Sitam sah kar bhi kitne gam chhipaye humne, Shayari

हर सितम सह कर कितने ग़म छिपाये हमने,
तेरी खातिर हर दिन आँसू बहाये हमने,
तू छोड़ गया जहाँ हमें राहों में अकेला,
बस तेरे दिए ज़ख्म हर एक से छिपाए हमने। 1f494 - Sitam sah kar bhi kitne gam chhipaye humne, Shayari

Continue Reading

होंठो की जुबान यह आँसू कहते है – आँसू और दर्द की शायरी

जो दर्द न होता

जो आंसू न होते आँखों में
तो ऑंखें इतनी खूबसूरत न होती
जो दर्द न होता इस दिल में
तो ख़ुशी की कीमत पता न होती
जो बेवफाई न की होती वक़्त ने हमसे
तो जुदाई में जीने की आदत न होती

 

Jo Dard Na Hota

Jo aansu na hote ankhon mein
To ankhen itni khobsurat na hoti
Jo dard na hota dil mein
To khushi ki kimat pata na hoti
Jo bewfayee na ki hoti waqt ne humse
To judai main jine ki aadat na hoti


न रोये कोई हमे देख कर

काँटों की सेज पर चलने की हमें अब आदत हो गई है
न रोये कोई हमे देख कर, हमें अब आँसू बहाने की आदत हो गई है

Na Roye Koi Hamein Dekh kar

Kanton ki seej par chalne ki hamein ab aadat ho gai hai
Na roye koi hamein dekh kar , …

Continue Reading