Bewafa Shayari || Bewafa Shayari Hindi and English

Bewafa Shayari || Bewafa Shayari Hindi and English

bewafa shayari – जब हम किसी से मोहब्बत करने लग जाए और वो हमसे बेवफ़ाई करने लगे तो ये दिल क्या कहता है सुनिए जरा, प्यार वो हमसे बेपनाह कर गए , फिर ज़िन्दगी में हमको तन्हा कर गए … चाहत थी उनके प्यार में फना हो जाने की , पर वो लौट कर आने को मना कर गए । मोहब्बत जब लौट कर आने से मना कर दे , तो तन्हा रहना बड़ा मुश्किल हो जाता है । उस मुश्किल के पलों में जो यादें होती है , मेहबूब की बातें होती है , इन आंखों में आसूं नजर आए देखे ना होते तो वो पीछे मुड कर मुस्कुराए ना होते , उनके जाने के बाद बस यही गम रहा कि काश वो हमारी ज़िंदगी में आए ना होते ।

Bewafa Shayari

किसी का दिल इतना भी मत दुखाओ कि…
वो खुदा के सामने तुम्हारा नाम लेकर रो पड़े”

हालात कह रहे है अब वो याद नही करेंगे
ओर उम्मीद कह रही है थोड़ा और इंतजार कर।

“नाराजगी चाहे कितनी भी क्यों ना हो,
पर तुझे छोड़ देने का ख्याल हम आज भी नहीं रखते”

“मुझे तुझ से नही नही तेरे अंदर बैठे रब से मोहब्बत है,
तुम तो बस एक ज़रिया हो मेरे इबादत का”

“जिंदगी में अक्सर कुछ लोग ऐसे भी मिल जाते हैं,
जिनको सिर्फ चाहा जा सकता है पाया नही..
क्यूँ के वो किसी ओर की किस्मत में होते है।”

“बुरा तो तब लगता है, जब हम एक ही इंसान से,
बात करना चाहते हो और वो हमे इग्नोर करता है।”

“कौन कहता है कि सिर्फ नफरतों मे ही दर्द होता है,
कभी कभी बेंपनाह मुहब्बत भी बहुत दर्द देती है।”

“दिल टूटा है संभलने मे कुछ, वक़्त तो लगेगा साहब,
हर चीज इश्क़ तो नहीं, की एक पल में हो जाए।”

“अजीब सी थी वो, मुझे बदल कर खुद बदल गई”

“प्यार किया तुझको दिलोजान से,
इस दिल में तुमको इस कदर बसा लिया,
भुला ना पाया है ये दिल तुझको आज तक,
लेकिन तुमने तो इसे दुख के आंसू रुला दिया।”

“अब मेरे हाल चाल नहीं पूछते हो तो क्या हुआ
कल एक एक से पूछोगे की उसे हुआ क्या था”

“हमें देख कर जब उसने मुँह मोड़ लिया,
एक तसल्ली हो गयी चलो पहचानते तो हैं।”

“मेरी कोशिश हमेशा से ही नाकाम रही
पहले तुझे पाने की अब तुझे भुलाने की।”

“झुकी हुई पलकों से उनका दीदार किया,
सब कुछ भुला …

Read More