shayarisms4lovers June18 163 - 20 Powerful (And Surprisingly Funny!) Stephen Hawking Quotes That Will Blow Your Mind

20 Powerful (And Surprisingly Funny!) Stephen Hawking Quotes That Will Blow Your Mind

The life, lessons, and inspiration from the iconic genius who taught us how the universe began.

Stephen William Hawking (1942 – 2018) was a brilliant theoretical physicist, cosmologist, best selling author and pop culture phenomenon that shed light on the many mysteries of the cosmos, origins of the universe, and the nature of time.

He suffered from a motor neuron disease known as Amyotrophic Lateral Sclerosis (ALS), otherwise known as Lou Gehrig’s disease, which causes progressive degeneration of nerve cells. The disease, which he was diagnosed with when he was only 21 years old, almost entirely paralyzed him and forced him into a wheelchair with a computer-generated voice synthesizer as a means of communicating.


Despite these challenges, Hawking’s mental state remained intact, and his ideas would revolutionize the way the world came to understand the universe itself.

In Stephen Hawking’s obituary, Dennis Overbye of the New York Times writes:

Hawking “roamed the cosmos from a wheelchair, pondering the nature of gravity

Continue Reading

मुंशी प्रेमचंद की जीवनी Munshi Premchand Biography in Hindi

Munshi Premchand Biography in Hindi

मुंशी प्रेमचंद (Hindi Writer Munshi Premchand) को आधुनिक हिंदी का पितामह कहा जाता है| आसमान में जो स्थान ध्रुव तारे का है वही स्थान हिन्दी साहित्य में मुंशी प्रेमचंद का है| मुंशी जी हिन्दी के प्रमुख लेखकों में से एक हैं| खासकर हिन्दी और उर्दू में प्रेमचंद जी का विशेष लगाव रहा है| मुंशी जी को उपन्यास सम्राट भी कहा जाता है| आज भी स्कूल और विद्यालयों में मुंशी जी की कहानियां बच्चों को पढ़ाई जाती हैं| प्रेमचंद जी हिंदी के सबसे लोकप्रिय और जाने माने लेखक हैं|

 

मुंशी प्रेमचंद का जन्म 31 जुलाई 1880 को बनारस से थोड़ी दूर लमही नामक गाँव में हुआ था| मुंशी जी के पिता अजायब राय जी एक डाकखाने में छोटी नौकरी करते थे| मुंशी जी उस समय मात्र 8 वर्ष के रहे होंगे जब इनकी माँ का देहांत हो गया| बाल्यावस्था में ही इनके ऊपर जिम्मेदारियों का …

Continue Reading

गोल्डन गर्ल हिमा दास का जीवन परिचय और सफ़लता की कहानी | Hima Das Biography & Success Story

Hima Das Biography : भारत के पूर्वोत्तर राज्य असम के एक छोटे से गाँव की १९ वर्ष की लड़की का नाम आज हर किसी की जुबान पर है. उसने कारनामा ही ऐसा कर दिखाया है, जो आज तक कोई भारतीय दिग्गज एथलीट नहीं कर पाया है.

मात्र १८ वर्ष की उम्र में World U-20 Championship 2018 में गोल्ड मैडल हासिल करने वाली पहली भारतीय एथलीट बनने के बाद उसने वर्ष २०१९ में १ माह के भीतर ५ विभिन्न अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं में गोल्ड मैडल जीतकर अपना नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज कर दिया है.  

हम बात कर रहे हैं ‘Golden Girl‘ और ‘Dhing Express’ के नाम से मशहूर sprint runner हिमा दास (Hima Das) की. हिमा दास ने सीमित संसाधनों के साथ अपनी कड़ी मेहनत और जूनून से जो सफ़लता प्राप्त की है, वो काबिले तारीफ है. लेकिन सफ़लता की ये राह इतनी भी …

Continue Reading

Dhvani Bhanushali | ध्वनि भानुशाली बायोग्राफी

Dhvani Bhanushali | ध्वनि भानुशाली बायोग्राफी

एक ऐसा नाम जिसने अपने बचपन के सपने को बहुत कम उम्र में हासिल किया,
एक नाम ऐसा जिसने अपनी कला से पूरी दुनिया को अपना दीवना बना दिया,

जिसने एक छोटे से यूट्यूब चैनल से सफर चालू किया और आज बॉलीवुड में एक अलग ही परचम लहरा दिया,
जिसने मॉडलिंग से लेकर गायिका का सफर सफलतापूर्वक तय किया
वो नाम है ध्वनि भानुशाली

आइये जानते है ध्वनि की ज़िंदगी से जुड़े हुए कुछ ऐसे अहम पहलू जिससे आप शायद बेखबर है…

 

Dhvani Bhanushali Family

ध्वनि भानुशाली का जन्म 2 जून 1988 को मुंबई, महाराष्ट्र में हुआ। ध्वनि के पिता का नाम विनोद भानुशाली है। ध्वनि एक मराठी परिवार से है।

Dhvani Bhanushali Education 

उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा मुंबई के एक निजी स्कूल से की है। एचआर कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स, मुंबई से उन्होंने अपनी डिग्री बिजनेस मैनेजमेंट और एंटरप्रेन्योरशिप पूरी की …

Continue Reading

पापड़ बेचने से लेकर ‘सुपर ३०’ तक का सफ़र, “आनंद कुमार” की सफ़लता की प्रेरणादायक कहानी

Anand Kumar Super 30 Biography & Success Story In Hindi : भारत में IIT जैसे टॉप इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ने का सपना कई छात्र-छात्रायें देखते है. ऐसे में उनका मार्गदर्शक बनती हैं – कोचिंग संस्थायें. लेकिन कोचिंग संस्थाओं की भारी-भरकम फीस वहन कर पाना हर छात्र के लिए संभव नहीं हो पाता. जो आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग के छात्र हैं, वे यह मार्गदर्शन प्राप्त करने से वंचित रह जाते हैं और कहीं न कहीं यह उनके इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा में सफ़लता प्राप्ति में अडंगा बन जाता है.

ऐसे में आर्थिक रूप से कमज़ोर छात्रों के लिए मसीहा बनाकर उभरे हैं – आनंद कुमार (Anand Kumar), जो अपने सुपर ३० संस्थान में ऐसे छात्रों को मार्गदर्शन प्रदान कर रहे हैं और उनकी न सिर्फ टॉप इंजीनियरिंग कॉलेज (Top Engineer College) में प्रवेश का मार्ग, बल्कि उज्जवल भविष्य का मार्ग भी प्रशस्त कर रहे हैं.

आनंद कुमार …

Continue Reading

क्या आप जानते हैं भारत की मिसाइल वुमन कौन हैं ? | Story of India Missile Woman Tessy Thomas

Tessy Thomas

हम सभी आज उस दौर में पहुंच चुके हैं जहां पर कुछ भी करना नामुनकिन नहीं है आज हम मंगल में जीवन की खोज कर रहे है। इंसानी दिमाग से भी तेज चलने वाले रॉबोट का अविष्कार भी कर चुके हैं। और तो ओर हमारी देश की महिलाएं जो कभी घूंघट में रहा करती थी अब कुश्ती बॉक्सिंग जैसे खेलों में मेडल भी जीतकर देश का नाम रोशन करने लगी है। हालांकि इतना सबकुछ होने के बावजूद भी कई ऐसे क्षेत्र है जिनमें महिलाओं की जल्दी कल्पना कर पाना मुश्किल लगता है।

pune 2 - क्या आप जानते हैं भारत की मिसाइल वुमन कौन हैं ? | Story of India Missile Woman Tessy Thomas

शायद इसलिए क्योंकि आज भी कई लोगों को महिलाओं की काबलियत पर शक है। और इन्ही क्षेत्रों में से एक मिसाइल निर्माण का भी क्षेत्र है जिसे चलाते फिल्मों में आपने अक्सर पुरुषों को ही देखा होंगा हालांकि आजकल महिलाएं भी आर्मी में भर्ती होकर इन मिसाइलों को चलाने लगी है। लेकिन जब भी बात आती …

Continue Reading

एक बंधुआ मजदूर का बेटा कभी ढोता था ईट पत्थर, आज है बीस कंपनियों का मालिक…

Mannem Madhusudana Rao

आपने अपने आसपास ऐसी कई सारी कहानिया सुनी होगी जो आपको प्रेरित करती होगी और ऐसे कई सारे लोग हुए है जिनसे हमे सीख मिलती है।

लेकिन उन्हें छोड़ बहुत सारे ऐसे लोग है जिनकी जिन्दगी चमत्कार लगती है। ऐसा लगता है जैसा की भगवान् ने साक्षात् इनके ऊपर कृपा की है। खाने की घर में अनाज नहीं था लेकिन कुछ सालो बाद करोडपति बन जाना ये चमत्कार से ज्यादा मेहनत और ईमानदारी पर निर्भर करता है और ऐसी ही कहानी है मधुसुदन राव की जो एक बंधुआ मजदूर के बेटे थे और खुद मजदूरी करते थे लेकिन आज बीस बड़ी बड़ी कम्पनियों के मालिक है।

एक बंधुआ मजदूर का बेटा कभी ढोता था ईट पत्थर, आज है बीस कंपनियों का मालिक – Mannem Madhusudana Rao

mmr 1 - एक बंधुआ मजदूर का बेटा कभी ढोता था ईट पत्थर, आज है बीस कंपनियों का मालिक…

मधुसुदन राव का शुरुआती जीवन- Mannem Madhusudana Rao Biography

मधुसूदन राव का जन्म आँध्रप्रदेश के प्रकाशम जिले में हुआ। पिता का …

Continue Reading

Baba Amte Biography in Hindi (बाबा आमटे के बारे में पूरी जानकारी)

Baba Amte Biography in Hindi बाबा आमटे देश के प्रख्यात और सम्माननीय समजकर्ता थे और बाबा आमटे का पूरा नाम डॉ॰ मुरलीधर देवीदास आमटे था। बाबा आमटे के बारे में सम्पूर्ण जानकारी हम इस लेख में आपसे साझा करेंगे तो इस लेख को पूरा जरूर पढ़ें।

baba amte 20080211 - Baba Amte Biography in Hindi (बाबा आमटे के बारे में पूरी जानकारी)

बाबा आमटे का प्रारंभिक जीवन (Baba Amte Initial Life in Hindi)

बाबा आमटे का जन्म महाराष्ट्र में स्थित वर्धा जिले में हिंगणघाट गाँव में 26 दिसंबर 1914 को हुआ था। उनके पिता देवीदास हरबाजी आमटे शासकीय सेवा में लेखपाल थे और वे जमींदार भी थे। बाबा आमटे को विरासत में मिली जमींदारी के कारण उनका जीवन बहुत ही थाट-वाट से बीता था। बाबा ने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई नागपुर के मिशन स्कूल में किया और इसके बाद नागपुर विश्विद्यालय से कानूनी पढ़ाई की।

कार्यक्षेत्र

एक दिन बाबा ने एक कुष्ट रोगी को बारिश में भीगते हुए देखा उसकी मदद के लिए कोई भी आगे …

Continue Reading

Mahatma Gandhi Biography in Hindi, Essay of Mahatma Gandhi

महात्मा गांधी संक्षिप्त जीवन परिचय
Mahatma Gandhi Brief Biography in Hindi, About Mahatma Gandhi
नाम मोहन दास करम चन्द्र गांधी
जन्म व स्थान 2 अक्टूबर 1869 ,गुजरात के पोरबंदर गांव में
मृत्यु ३० जनवरी 1948
पिता करम चंद्र जी
माता पुतली बाई
पत्नी कस्तूरबा गांधी
संतान हरिलाल, मणिलाल ,रामदास ,देवदास
शिक्षा बैरिस्टर
राष्ट्रीयता  भारतीय
उपलब्धियां  भारत के राष्ट्रपिता, भारत को आजाद दिलवाने में अहम योगदान, सत्य और अहिंसा के प्रेरणा स्त्रोत, भारत के स्वतंत्रा संग्राम में महत्वपूर्ण योगदान भारत छोड़ो आंदोलन, स्वदेशी आंदोलन, असहयोग आंदोलन स्वदेशी आंदोलन आदि।
महत्वपूर्ण कार्य  सत्या और अहिंसा का महत्व बताकर इसको लोगों तक पहुंचाया, छुआ-छूत जैसी बुराइयों को दूर किया

mahatma gandhi q - Mahatma Gandhi Biography in Hindi, Essay of Mahatma Gandhi

महात्मा गांधी का प्रारंभिक जीवन (Early life of Mahatma Gandhi)

महात्मा गाँधी का जन्म गुजरात के पोरबंदर गांव में हुआ था | इनके पिता जी श्री करम चंद्र गाँधी जी पोरबंदर के दीवान थे और माता जी (पुतली बाई) जो एक धार्मिक महिला थी| …

Continue Reading

Maharana Pratap Biography & Facts In Hindi

Maharana Pratap Biography :

Maharana Pratap Birth Date : 9th May, 1540.

Birth Place : Kumbhalgarh Fort, Rajasthan.

Father’s Name ‎: ‎Udai Singh II

Mother’s Name ‎: ‎Maharani Jaiwanta Bai

Maharana Pratap Ki Talwar Ka Weight : 50KG.

Maharana Pratap Ke Bhale Ka Weight : 81KG.

Maharana Pratap Ke Kavach Ka Weight : 72KG.

Horse Name : Chetak & Hetak.

Height : 7.5

Weight : 110kg

Read Great Facts About Maharana Pratap In Hindi :

maharana pratap facts in hindi - Maharana Pratap Biography & Facts In Hindi

महाराणा प्रताप के बारे में कुछ रोचक जानकारी:-

1. महाराणा प्रताप एक ही झटके में घोड़े समेत दुश्मन सैनिक को काट डालते थे।

2. जब इब्राहिम लिंकन भारत दौरे पर आ रहे थे ।  तब उन्होने अपनी माँ से पूछा कि- हिंदुस्तान से आपके लिए क्या लेकर आए ? तब माँ का जवाब मिला- ”उस महान देश की वीर भूमि हल्दी घाटी से एक मुट्ठी धूल लेकर आना,  जहाँ का राजा अपनी प्रजा के प्रति …

Continue Reading