a letter–after breakup #princess for u -personal dairy

जिसे ज़िन्दगी में मैं हादसे जियादा चाहता हु ,जिसके लिए मैं कुछ भी कर गुजरने को तैयार हु उसे किसी और का होता देखना है ,पर ये भी सच है   आंसू नहीं देख सकता। उसके दर्द का एहसास है मुझे इसलिए सायद उसे उसकीतरहा की ज़िन्दगी देनेके लिए  कोई  भी तकलीफ ले सकता हु,वो मेरी जान बन गयी   और  वो जब ये पूछती  है की -“प्यार  तो  करते होना ?”——–सच कहु कुछ अजीब सा लगता है। किया मैं अपना प्यार जताने में नाकाम रहा ,या दिल की आवाज़  दिल तक नहीं पोहोचति  सायद नहीं  क्यू की जिसके लिए इतना आंसू बहाने के बाद भी आपको ये सुनने को मिले तो फिर बात  समझ आती है की  प्यार बताना होता है जाताना होता है। 

“इश्क़ जो अपना समझ जाता तू

दावा है मेरा मोम सा पिघल जाता तू “
“तेरी मजबूरिओ ने मजबूर कर दिया 
वरना मोहब्बत किया है ज़माने को दिखता मैं “
 
“ishq jo apna samajh jata tu
dawa hai mera mom sa pighal jata tu”
“teri majburio ne majbur kar diya
warna mohabbat kiya hai jamane ko dikhata main”
 
उसकी शादी टूट गयी मेरे साथ नहीं किसी और के साथ ,और उसका वो उदास चेहरा मेरे आँखों के सामने घूमने लगा। ऐसा लग   रहा था जैसे किसी ने मेरे  दिल को तोर दिया दिया हो। मुझे समझ नहीं आरहा था मैं किया कहु ,और इस दर्द से उसे कैसे बहार लाऊ ,मुझे पता है वो अपने तरफ से वो पूरी कोसिस कर रही है बस दुआ है खुदा उसकी कोसिस को कामयाब करे।वो  मेरे दिल का जो टुकड़ा है  सायद पूरा दिल है। पता नहीं ज़िन्दगी हमारे साथ किया खेल खेलती है मज़बूरी देके सबकुछ चीन लेती। 

#princess for u

hi, princess kaisi ho,sorry mujhe sab kuch bohot der se pata chala ,ha ab sara number tumhara mere pass hai ,par ghabrao mat main tumhe paresan nahi karunga ,main janta hu tum paresan ho dard me ho,aur main kuch kar nahi sakta.pass jaunga to sayad  dard aur uljhan jiyada ho jaye.janta hu meri baat tumtak kabhi nahi pohchegi  fir bhi tumse baat karta hu kiya karu dilko dilasa dene k liye kuch to chahiya.ek baat bolu ye ek tarfa piyaar bohot hard hai yaar,bohot taklif hoti hai q ki ye wo saja hai jisme  samne waleko pata bhi nahi hota ki koi uske liye aaj bhi tarap raha hai ,intejar me hai jo kabhi katam nahi hoga.hamesha k

Read More

Yaad Shayari, Tum usako yaad kyu karate ho

पूछा किसी ने?
तुम उसको याद क्यू करते हो,
जो तुम्हे याद ही नहीं करते,
तड़प कर दिल बोला,
रिश्ते निभाने वाले मुकुबाला नहीं करते!

Pucha kisi ne?
tum usako yaad kyu karate ho,
jo tumhe yaad hi nahin karate,
tadap kar dil bola,
rishte nibhane waale mukubaala nahin karte!…

Read More

Top WhatsApp Love Shayari in Hindi on Pyar Nibhana

इन आखों को समझ पाने वाला चाहिए,
रोते हुये दिल को हँसाने वाला चाहिए,
यु तो मिल जाते है प्यार जताने वाले बहुत,
पर हमे तो प्यार निभाने वाला चाहिए..…

Read More

जब कभी हँसते है तो आंखें छलक पड़ती हैं

याद -ऐ -माझी

यूं ही आज याद -ऐ -माझी ने रुला दिया है मुझे
मौत से भी पहले ज़िन्दगी ने सुला दिया है मुझे

पास रह के भी मेरे दोस्त क्यों हैं दूर
इसी सोच ने अंदर तक हिला दिया है मुझे

बिछड़े हुए यारों की याद आई है इतनी
इन यादों की तपीश ने जला दिया है मुझे

बीती हुए यादों को खुरचने की कोशिश ने
हंसी , ख़ुशी , ज़िन्दगी सब कुछ भुला दिया है मुझे

जब कभी हँसते है तो आंखें छलक पड़ती हैं
यूं ग़मो ने आँसूओ से मिला दिया है मुझे

Yaad-ae-maazi

yoon hi aaj yaad-ae-maazi ne rula diya hai mujhe
mout se bhi pehle zindagi ne sula diya hai mujhe

pass reh ke bhi mere dost kyon hain dur
issi soch ne under tak hila diya hai mujhe

bichrey hue yaaron ki yaad aye hai itni
in yaadin ki tapish ne jala diya hai mujhe

beeti hue yaadon ko khuruchney ki koshish ne
hunsi , khushi , zindagi sub kuch bhula diya hai mujhe

Jab kabhi hanste hai to aankhain chalak padti hain
yoon gamoon ne aansoon se mila diya hai mujhe…

Read More

2 Line Shayari in Hindi , Tay hai badlna

तय है बदलना, हर चीज बदलती है इस जहां में,
किसी का दिल बदल गया, किसी के दिन बदल गए।

यूं तो किसी चीज के मोहताज नही हम,
बस एक तेरी आदत सी हो गयी है।

बिन दिल के जज्बात अधूरे, बिन धड़कन अहसास अधूरे,
बिन साँसों के ख्वाब अधूरे, बिन तेरे हम कब हैं पूरे।

ज़ुल्फों को उंगलियों से किनारे किया ना कर
दिल मेरा आवारा है इसे और बिगाड़ा ना कर।

आँखे खुली जब मेरी तो जाग उठीँ हसरतेँ सारी,
उसको भी खो दिया मैँने..जिसे पाया था ख़्वाब मेँ।

तेरे वजूद से ही मेरी मुकम्मल कहानी,
मैं एक खोखली सीप तू एक मोती रूहानी।

मोहल्ले की मोह्ब्बत का भी अजीब फ़साना है,
चार घर की दूरी और बीच मे सारा जमाना है।

खुला ना रख हर एक के लिये दिल का दरवाज़ा,
ये दिल एक घर हैं इसे बाज़ार मत बना।

कोशिश तो बहुत करता हूँ,
पर अब किसी से तुम्हारे जैसी मोहब्बत नही होती।

मुस्कुराने के मकसद न ढूंढ वर्ना जिन्दगी यूँही कट जायेगी,
कभी बेवजह भी मुस्कुरा के देख, तेरे साथ जिन्दगी भी मुस्कुरायेगी।…

Read More

गम-ऐ-मुहब्बत शायरी

दिल का आलम

सिर्फ चेहरे की उदासी से भर आए आँसू
दिल का आलम तो अभी आप ने देखा ही नहीं …

Dil ka Alam

Sirf chehray ki Udasi say bhar aye Ansoo
Dil ka alam tu Abhi ap nay Dekha hi nahi…


गम-ऐ-मुहब्बत

वो जो बिछड़ा तो मैंने जाना
लोग मर मर कर भी जिया करते हैं ..!!

Gam-AE-mohabbat

Who Jo Bichra Tu Main Ne Jana
Log Mar Kar Bi Jiya Kartey Hai’n..!!


आईना

जो दिल के आईने में हो ,
वही है प्यार के क़ाबिल
वरना दीवार के क़ाबिल तो हर तस्वीर होती है

Aaiena

Jo Dil Ke Aainey Mein Ho,
Wohi Hai Pyaar Ke Qaabil
Warna Dewaar Ke Qabil To Har Tasveer Hoti Hai


वो तो खुश्बू है हवाओं में बिखर जाएगा

वो तो खुश्बू है हवाओं में बिखर जाएगा
मसला फूल का है फूल किधर जाएगा

हम तो समझे थे के एक ज़ख्म है , भर जाएगा
क्या खबर थी के रग -ऐ -जान में उतर जाएगा

वो हवाओं की तरह खाना -बेजान फिरता है
एक झौंका है जो आएगा गुज़र जाएगा

वो जब आएगा तो फिर उस की रफ़ाक़त के लिए
मौसम -ऐ -गुल मेरे आँगन में ठहर जाएगा

आख़िर वो भी कहीं रेत पे बैठी होगी
तेरा यह प्यार भी दरिया है उतर जाएगा

Wo to Khushbu hai hawaaon mein bikhar jaayegaa

Wo to Khushbu hai hawaaon mein bikhar jaayegaa
mslaa phuul ka hai phuul kidhar jaayegaa

hum to samjhe the ke ek zaKhm hai, bhar jaayegaa
kyaa Khabar thi ke rag-ae-jaaN mein utaar jaayegaa

wo hawaaoN ki tarah Khaanaa-bajaaN phirtaa hai
ek jhonkaa hai jo aayegaa guzar jaayegaa

wo jab aayegaa to phir us kii rafaaqat ke liye
mausam-e-gul mere aangan mein Thaher jaayegaa

aaKhir wo bhi kahin ret pe baithi hogi
teraa ye pyaar bhi dariyaa hai utar jaayegaa…

Read More

इश्क़ और तन्हाई शायरी

तन्हाई

कितनी अजीब है मेरे अंदर की तन्हाई भी ,​
​हज़ारों अपने हैं मगर याद तुम ही आते हो ..​

Tanhai

Kitni Ajeeb Hai Mere Andar Ki Tanhai Bhi,​
​Hazaron Apne Hain Magar Yaad Tum Hi Atey Ho..​


तन्हाईयाँ

तन्हाईयाँ कुछ इस तरह से डसने लगी मुझे
मैं आज अपने पैरो की आहट से डर गया .. ​

Tanhaiyan

Tanhaiyan kuch is tarha se dasney lagi mujhey
Main aaj apne pairo ki ahat se dar gaya..…

Read More

फ़राज़ और मोहसिन नक़वी की खूबसूरत उर्दू शायरी

तन्हाई और महफ़िल – फ़राज़

तन्हाई में जो चूमता है मेरे नाम के हरूफ फ़राज़
महफ़िल में  वो शख्स मेरी तरफ देखता भी नहीं ​

Tanhai Aur Mehfil – Faraz

Tanhai main jo chomta hai mere naam ke haroof  “Faraz”
Mehfil mein wo shakhas meri taraf dekhta bhi nahi​


जिंदगी और मौत – फ़राज़

कोई न आएगा तेरे सिवा मेरी जिंदगी में  “फ़राज़”
एक मौत ही है जिस का हम वादा नही करती ​

Zindgi Aur Maut – Faraz

Koi na ayega tere siwa meri zindgi main “Faraz”
Ek maut hi hai jiss ka hum wada nahi karte


मिज़ाज़ और धड़कन – फ़राज़

कितना नाज़ुक मिज़ाज़ है  उसका  कुछ न पूछिये  “फ़राज़”
नींद नही आती उन्हें धड़कन के शोर से ​

Mizaz Aur Dhadkan – Faraz

Kitna nazuk mizaz hai uska kuch na puchiay “Faraz”
Neend nhi ati unhe Dhadkan ke shor se​


खुश और उदास – फ़राज़

वो मुझ से बिछड़ कर खुश है तो उसे खुश रहने दो “फ़राज़ “
मुझ से मिल कर उस का उदास होना मुझे अच्छा नहीं लगता

Khush Aur Udaas – Faraz

Wo mujh se bichad kar khush hai to usse khush rehne do “Faraz”
Mujh se mil kar us ka udass hona muje acha nai lagta


बेवफा और ज़िंदगी – फ़राज़

वो बेवफा ही सही, आओ उसे  याद कर लें  “फ़राज़”
अभी ज़िंदगी बहुत पड़ी है, उसे भुलाने के लिए ​

Bewafa Aur Zindgi – Faraz

Wo bewafa hi sahi aao usse yaad kar lein “Faraz”
Abhi zindgi bahut padi hai usse bhulane ke liye​


आँखें – मोहसिन  नक़वी 

तेरी कम गोइ के चर्चे हैं ज़माने भर में  “मोहसिन”
किस से सीखा है यूँ आँखों से बातों की वज़ाहत करना ​

Anken – Mohsin Naqvi

Teri kam goi ke charche hain zamane bhar main “Mohsin”
Kis se seekha hai yun ankhon se baton ki wazahat karna​


हाथों की लकीरें – मोहसिन  नक़वी 

अपने हाथों की लकीरें न बदल पाया  “मोहसिन”
खुशनसीबो से बहुत हाथ मिलाये हम ने ​

Hathon ki Lakeerain – Mohsin Naqvi

Apne hathon ki lakeerain na badal paya “Mohsin”
khush naseebo se bahut hath milay hum ne​…

Read More

Life Shayari, Agar koi puche zindagi mein kya khoya

एक खूबसूरत सोच
अगर कोई पूछे जिंदगी में क्या खोया और क्या पाया,
तो कहना जो कुछ खोया वो मेरी नादानी थी और..
जो भी पाया वो प्रभू की मेहेरबानी थी,
खुबसूरत रिश्ता है मेरा और भगवान के बीच में,
ज्यादा मैं मांगता नहीं और कम वो देता नहीं! Life Shayari, Agar koi puche zindagi mein kya khoya ✍

Agar Koi Poochhe..
Zindagi Mein Kya Khoya Aur Kya Paya Toh Beshak Kahena,
Jo Kutch Khoya Woh Meri Nadani Thi,
Aur Jo Bhi Paya Woh Rab Ki Maherbani Thi,
Khubsurat Rista Hain Mere Aur Khuda Ke Beech Mein,
Zyada Mangta Nahin Aur Kam Woh Deta Nahi. Life Shayari, Agar koi puche zindagi mein kya khoya ✍

Read More

जब भी तेरे रुखसार की तामीर हम करते है

जब भी तेरे रुखसार की तामीर हम करते है

जब भी तेरे रुखसार की तामीर हम करते है
हम उस वक़्त खुदा का शुक्रगुजार करते है
पाया था तुझे इबादत में खुदा की रहमतों से
न कर सके मुकमल उस फ़रियाद को याद करते है

Jab Bhi Tere Rukhsar ki Tamir Hum Karte Hai

Jab bhi tere rukhsar ki tamir hum karte hai
hum us waqt khuda ka sukargujar karte hai
paya tha tujhe ibadat mein khuda ki rehmton se
na kar sake mukamal us fariyaad ko yaad karte hai..


दर -ओ -दीवार

अब कोई नहीं है इस शहर बिरने में
न कोई दर -ओ -दीवार है इस महखाने मैं
हर कोई अजनबी सा मिलता है
बीत गए वो दिन जब गुल थे गुलज़ार
अब तो जीना भी एक सवाल लगता है

Dar-o-Diwaar

Ab koi nahi hai is shehar birane mein
na koi dar-o-diwaar hai is mehkhane main
har koi ajnabi sa milta hai
beeat gaye wo din jab gul the gulzaar
ab to jina bhi ek sawal lagta hai..


दूर रह कर भी तुम दिल से जुदा न होंगे

न रहे कोई गम गिला इस क़दर वफ़ा देंगे
तेरी एक ख़ुशी की खातिर हम सब कुछ लूटा देंगे
कभी न भुलाएंगे तेरी मोहब्बत को हम
दूर रह कर भी तुम दिल से जुदा न होंगे

Door Reh Kar Bhi Tum Dil Se Judha Na Honge

Na rahe koi gila iss qadar wafa denge
teri ek khushi ki khatir hum sab khuch lutta denge
kabhie na bhulaenge teri mohabbat ko hum
door reh kar bhi tum dil se judha na honge..


तसव्वुर

तसव्वुर में ही सही एक चेहरा तो है
तू मेरे साथ नहीं पर ख्यालों में तेरा पहरा तो है

Tasabur

tasabur mein hi sahi ek chera tou hai
tu mere saath nahi per khayalon mein tera pehra tou hai…

Read More