[50+] Khamoshi Shayari in Hindi (NOV 2021) | ख़ामोशी शायरी

क्या आपको Khamoshi Shayari (ख़ामोशी शायरी) चाहिये? तो पढ़िए Best Khamoshi Shayari in Hindi और शेयर करें Facebook, Whatsapp और Insatgram पर

shayarisms4lovers.in- New Hindi Shayari on Love, Sad, Funny, Friendship, Bewafai, Dard, GoodMorning, GoodNight, Judai, Whatsapp Status in Hindi

Khamoshi Shayari

खामोशियाँ यूं ही बेवजह नहीं होतीं,
कुछ दर्द भी आवाज़ छीन लिया करतें हैं..!!

जब कोई बाहर से खामोश होता है,
तो उसके अंदर बहुत ज्यादा शोर होता हैं..!!

खामोश बैठे हैं तो लोग कहते हैं उदासी अच्छी नहीं,
और ज़रा सा हंस लें तो लोग मुस्कुराने की वजह पूछ लेते हैं..!!

चुभता तो बहुत कुछ हैं मुझे भी तीर की तरह,
लेकिन खामोश रहता हूँ तेरी तस्वीर की तरह..!!

दिल की ख़ामोशी पर मत जाओ,
राख के नीचे आग दबी होती है..!!

Shayari Khamoshi

खामोशी से बनाते रहिये पहचान अपनी,
हवाएँ ख़ुद गुनगुनाएगी नाम आपका..!!

शिकायते तो बहुत है उनसे मेरी पर क्या करू,
ये जो ख़ामोशी हैं मुझे कुछ कहने ही नहीं देती..!!

मेरी खामोशियों में भी फसाना ढूंढ लेती है,
बड़ी शातिर है ये दुनिया बहाना ढूंढ लेती है,
हकीकत जिद किये बैठी है चकनाचूर करने को,
मगर हर आंख फिर सपना सुहाना ढूंढ लेती है..!!

जवाब पलट कर देने में क्या जोर जनाब,
असली ताकत तो खामोश रहने में लगती हैं..!!

गिला शिकवा ही कर डालो के कुछ वक़्त कट जाए,
लबो पे आपके यह खामोशी अच्छी नहीं लगती..!!

Khamoshi Shayari in Hindi

मेरी खामोशी से किसी को कोई फर्क नही पड़ता,
और शिकायत में दो लफ़्ज कह दूं तो वो चुभ जाते हैं..!!

हक़ीकत में खामोशी कभी भी चुप नहीं रहती है,
कभी तुम गौर से सुनना बहुत किस्से सुनाती है..!!

तड़प रहे है हम तुमसे एक अल्फाज के लिए,
तोड़ दो खामोशी हमें जिन्दा रखने के लिए..!!

अब अल्फ़ाज नहीं बचे कहने को,
एक वो है, जो मेरी ख़ामोशी नहीं समझती..!!

Khamoshi Shayari Hindi

लोग तो सो लेते हैं जमाने कि चाहेल पहेल में,
मुझे तो तेरी खामोशी सोने नहीं देती..!!

भीगी आँखों से मुस्कुराने का मजा और है,
हँसते हँसते पलके भिगोने का मजा और है,
बात कह के तो कोई भी समझ लेता है,
खामोशी को कोई समझे तो मजा और है..!!

ख़ामोशी की तह में छुपा लीजिये उलझने,
क्योकि शोर कभी मुश्किल आसान नहीं करती..!!

मेरी आवाज़ किसी शोर में गर डूब गई,
मेरी खामोशी बहुत दूर सुनाई देगी..!!

बड़े ही पक्के होते हैं सच्ची दोस्ती के रंग,
ज़िंदगी के धूप में भी उड़ा नहीं करते..!!

कभी ख़ामोशी बनते हैं कभी आवाज बनते है,
हर तन्हाई के साथी मेरे जज्बात बनते हैं..!!

Shayari on Khamoshi

तेरी खामोशी …

Read More