Yaadein Shayari in Hindi on Intezar Hai Pigam Ka

इंतेज़ार रहता है हर शाम तेरा,
रातें काट ते है ले ले के नाम तेरा,
मुद्दत से बैठी हू ये आस पाले,
शायद अब आ जाए कोई पैगाम तेरा..

Leave a Reply

%d bloggers like this: